सोमवार, 03 अक्टूबर 2022
खेत-खलिहान

किसान आंदोलन के एक साल पूरे होने पर ‘प्रधानमंत्री आवास’ के घेराव की तैयारी में किसान!



किसान नेता गुरनाम सिंह चढ़ूनी ने कहा,"26 नवंबर को किसान आंदोलन के एक साल पूरे होने पर प्रधानमंत्री आवास का घेराव करेंगे"

करीबन दस महीने से देशभर में चल रहा किसान आंदोलन एक नये पड़ाव की ओर बढ़ता हुआ नजर आ रहा है. सरकार की ओर से किसानों की अनदेखी के चलते 18 किसान संगठनों ने एक बड़ा फैसला लिया है. इन 18 किसान संगठनों में देश के अलग-अलग राज्यों के किसान संगठन शामिल हैं. किसान नेता गुरनाम सिंह चढ़ूनी ने एक वीडियो के जरिए संदेश देते हुए कहा, “26 नवंबर को प्रधानमंत्री आवास का घेराव करने का फैसला लिया गया है.” साथ ही गुरनाम सिहं चढूनी ने प्रधानमंत्री आवास के बाहर पक्का मोर्चा लगाने की भी बात कही.

उन्होने कहा कि 18 किसान संगठनों की सोनीपत में हुई बैठक में प्रधानमंत्री आवास के घेराव का फैसला लिया गया है. इस प्रस्ताव को संयुक्त किसान मोर्चा के सामने रखा जाएगा. प्रधानमंत्री आवास के घेराव की कॉल देने के लिए संयुक्त किसान मोर्चा से भी अपील की जाएगी.  गुरनाम सिंह चढूनी ने कहा, “अगर संयुक्त किसान मोर्चा हमारा प्रस्ताव मंजूर करता है तो किसान आंदोलन के एक साल पूरे होने पर यानी 26 नवंबर को प्रधानमंत्री आवास का घेराव करके पक्का मोर्चा लगाया जाएगा.”

किसान नेता गुरनाम सिंह चढ़ूनी

       

किसान करीबन दस महीने से दिल्ली की सीमाओं पर आंदोलन कर रहे हैं. तीन नये कृषि कानूनों को रद्द करने और फसलों पर एमएसपी की गारंटी को लेकर चला आ रहा यह आंदोलन पूरे देश में फैल चुका है. किसान आंदोलन में अब तक 700 से ज्यादा किसान शहीद हो चुके हैं. प्रधानमंत्री आवास के घेराव को लेकर किसान नेता गुरनाम सिंह चढूनी ने देश के आम लोगों से भी राय मांगी है.