खेत-खलिहान

दरअसल अशोक गुलाटी और दिलीप मंडल को एक “कॉरपोरेट” बीमारी है!

द वायर पर अशोक गुलाटी का एक इंटरव्यू देखा, जिसमें अशोक गुलाटी टैक्स पेयर का हवाला देकर किसानों को मुफ्तखोर कह रहे हैं और फर्टिलाइजर एंड फूड सब्सिडी पर हमला बोल रहे हैं. पब्लिक सेक्टर को पुरानी व्यवस्था बतला रहे हैं और रिलायंस जियो को क्रांति. एंकर क्रॉस क्वेश्चन पूछने की बजाए सर हिलाकर कहता है, "आप बिलकुल सही कह रहे हैं" गुलाटी साहब की बातों के जवाब में यह लेख लिखा गया है, पढ़ा जाए.

Tue, Feb 13, 2024





Budget 2024: खेतीबाड़ी के बजट में मामूली बढ़ोतरी, पर किसानों की कई योजनाओं के बजट में कटौती

बार-बार मौसम की मार के कारण किसानों की कमाई पर असर पड़ने के बावजूद, अंतरिम बजट में कुछ प्रमुख योजनाओं के लिए धनराशि में कटौती की गई

Fri, Feb 2, 2024