शुक्रवार, 27 जनवरी 2023
खेत-खलिहान

जींद: किसानों ने की बिजली संशोधन बिल रद्द करने की मांग!



पंचायत ने राज्य में वृद्धावस्था पेंशन में कटौती, भारी बारिश से क्षतिग्रस्त हुए घरों का मुआवजा, स्वच्छ जल आपूर्ति और बिजली संशोधन बिल 2022 रद्द करने की मांग की.

हरियाणा के उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला के राजनैतिक क्षेत्र अलेवा और उचाना ब्लॉक के किसानों ने जलजमाव और पिंक बॉलवर्म (गुलाबी सुंडी) के हमले के कारण फसल के नुकसान के मुआवजे की मांग को लेकर एक पंचायत आयोजित की. पंचायत में किसानों ने अपनी मांगों के समर्थन में 15 अगस्त को ट्रैक्टर तिरंगा यात्रा निकालने का फैसला लिया.

किसान पंचायत ने राज्य में वृद्धावस्था पेंशन में कटौती, भारी बारिश से क्षतिग्रस्त हुए घरों का मुआवजा, स्वच्छ जल आपूर्ति और बिजली संशोधन बिल 2022 रद्द करने की मांग की.

पंचायत के बाद किसानों ने उचाना कस्बे के तहसीलदार को मुख्यमंत्री मनोहर लाल के नाम अपनी मांगों का ज्ञापन सौंपा. 

वहीं किसान नेता आजाद पहलवान ने कहा कि उन्होंने अधिकारियों या बीजेपी-जेजेपी सरकार की ओर से नहीं उठाए गए मुद्दों को लेकर पंचायत का आयोजन किया है. अगर सरकार ने हमारी मांगों को नहीं माना तो किसानों ने जल्द ही नया आंदोलन शुरू करने का फैसला किया है.