गुरुवार, 09 फ़रवरी 2023
खेत-खलिहान

मुजफ्फरनगर किसान महापंचायत को लेकर क्या है किसानों की तैयारी!



संयुक्त किसान मोर्चा ने पश्चिम बंगाल की तरह यूपी विधानसभा चुनाव में भी बीजेपी के खिलाफ चुनाव प्रचार करने का एलान किया है. किसान नेताओं की इसी रणनीति के तहत 5 सितंबर से उत्तर प्रदेश में किसान महापंचायतों की शुरुआत होने जा रही है.

संयुक्त किसान मोर्चा ने 5 सितंबर यानी रविवार को पश्चिमी उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर में किसान महापंचायत करने का एलान किया है. मुजफ्फरनगर की किसान महापंचायत को उत्तर प्रदेश में किसानों की बीजेपी विरोधी रणनीति के तौर पर देखा जा रहा है. संयुक्त किसान मोर्चा ने एलान किया है कि पश्चिम बंगाल की तरह यूपी विधानसभा चुनाव में भी किसान बीजेपी के खिलाफ चुनाव प्रचार करेंगे. किसान नेताओं की इसी रणनीति के तहत 5 सितंबर से उत्तर प्रदेश में किसान महापंचायतों की शुरुआत होने जा रही है.

गांव-सवेरा की टीम भी मुजफ्फरनगर किसान महापंचायत को कवर करने के लिए किसानों के बीच पहुंची है. इस बीच किसान महापंचायत को लेकर किसान किस तरह की तैयारियां कर रहे हैं इसे कवर किया है हमारे संवाददाता मनदीप पुनिया ने. देखिए, मुजफ्फरनगर किसान महापंचायत से पहले किसानों की तैयारियों को लेकर गांव-सवेरा की ग्राउंड रिपोर्ट.

राकेश टिकैत के गांव सिसौली में उनके घर पर किसान महापंचायत के लिए तैयारियों का जायजा

इसके बाद संवाददाता मंनदीप पुनिया ने मुजफ्फरनगर किसान महापंचायत को लेकर शामली जिले के किसान नेताओं से बात की. किसान नेता कपिल ने बताया कि किसानों के लिए 20 भंडारों की व्यव्स्था की गई है. उन्होने कहा कि किसानों की सेवा में एक नारा दिया है, ‘किसानों की शान में, शामली जिला मौदान में’.

मुजफ्फरनगर किसान महापंचायत के लिए तैयारियों के बारे में बताते पश्चिमी यूपी के किसान.

मुजफ्फरनगर किसान महापंचायत के लिए जाते हुए किसान