शुक्रवार, 27 जनवरी 2023
टॉप न्यूज़

एक्सप्रेस-वे पर रास्ते की मांग को लेकर प्रदर्शन कर रहे एक किसान की ठंड से मौत!



किसानों के खेत तीन तरफ से हाइवे से घिरे हुए हैं और उनके पास अपनी जमीन तक पहुंचने का कोई रास्ता नहीं है. उन्हें सड़क पार अपने खेतों तक पहुंचने के लिए कई किलोमीटर पैदल चलना पड़ता है.

नूंह में बनने वाले दिल्ली-मुंबई एक्सप्रेसवे पर अपने गांव के पास सड़क के रास्ते की मांग को लेकर धरना-प्रदर्शन कर रहे किसानों में से एक किसान की ठंड के कारण मौत हो गई. मृतक किसान राम खिलाड़ी नूंह ब्लॉक के मंडोकला गांव के रहने वाले थे. वह गांव के अन्य किसानों के साथ, दिल्ली-मुंबई एक्सप्रेसवे पर अपने गांव के पास सड़क से कटने वाले रास्ते की मांग को लेकर प्रदर्शन कर रहे थे.

गांव के किसान एक जनवरी से धरने पर बैठे हैं जिनमे से सोमवार तड़के एक किसान की मौत हो गई. ग्रामीणों ने मांग पूरी होने तक शव का अंतिम संस्कार करने से इनकार कर दिया है. ग्रामीणों का दावा है कि उनके खेत तीन तरफ से हाइवे से घिरे हुए हैं और उनके पास अपनी जमीन तक पहुंचने का कोई रास्ता नहीं है. उन्हें सड़क पार अपने खेतों तक पहुंचने के लिए कई किलोमीटर पैदल चलना पड़ता है. किसानों ने सितंबर में भी विरोध किया था और उन्हें कार्रवाई का आश्वासन दिया गया था.

प्रदर्शन कर रहे किसानों में से एक किसान ने बताया, “निर्माण कंपनी ने वादा नहीं निभाया और रास्ते के लिए कोई प्रावधान नहीं किया. हम अपनी मांग पूरी होने तक विरोध करेंगे.”