गुरुवार, 09 फ़रवरी 2023
खेत-खलिहान

धान घोटाला: 35 राइस मिलों से ढाई हजार क्विंटल से ज्यादा धान गायब!



फर्जी गेट पास पर धान की खरीद और दूसरे राज्यों से धान आने की खबर के बाद टीम का गठन किया गया. रिपोर्ट में सामने आया कि स्टॉक में 2,630.82 क्विंटल धान और14.61 क्विंटल चावल कम मिला है.

हरियाणा में करनाल के बाद अब कैथल में भी धान घोटाला सामने आया है. कैथल उपायुक्त द्वारा गठित 17 टीमों की छानबीन में सामने आया कि जिले की 35 चावल मिलों के स्टॉक में 2630.82 क्विंटल धान की कमी पाई गई. मीडिया में यह रिपोर्ट आने के बाद टीमों का गठन किया गया था कि फर्जी गेट पास पर धान की फर्जी खरीद हो रही है और धान दूसरे राज्यों से आ रहा है.

उपायुक्त द्वारा गठित टीमों ने जिले की 165 मिलों का नवंबर-दिसंबर महीने में निरक्षण किया था. टीम ने कस्टम मिल्ड चावल (सीएमआर) की गुणवत्ता के साथ खरीद एजेंसियों द्वारा धान जारी करने के साथ मिलों में उपलब्ध स्टॉक का भी निरक्षण किया.

अंग्रेजी अखबार के हवाले से कैथल उपायुक्त संगीता तेतरवाल ने बताया कि “मैंने राइस मिलों का निरक्षण करने के लिए 17 टीमों का गठन किया है. टीमें चावल की गुणवत्ता के साथ-साथ धान के स्टॉक और कस्टम-मिल्ड चावल की जांच की है. टीम के सदस्यों ने अपनी रिपोर्ट निदेशक, खाद्य नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता मामले विभाग को सौंप दी है. विभाग के निर्देश के बाद आगे की कार्रवाई शुरू की जाएगी.”

उन्होंने बताया कि हमने 165 मिलों को 82,40,812.560 क्विंटल धान आवंटित किया है. टीम के सदस्यों को स्टॉक में 2,630.82 क्विंटल धान और 14.61 क्विंटल चावल कम मिला है.