बुधवार, 07 दिसंबर 2022
राजनीति

सरकारी अमले के सामने किसान दंपति ने जहर पिया, पुलिस बर्बरता का वीडियो वायरल



जमीन से कब्जा हटाने के दौरान पुलिस ने किसान को बुरी तरह पीटा, सरकार पर उठे रहे सवाल

मध्यप्रदेश के गुना में किसान परिवार पर पुलिस बर्बरता का वीडियो सामने आया है। सरकारी कॉलेज की जमीन पर कब्जा हटाने गए एसडीएम और पुलिस के सामने ही किसान राजकुमार अहिरवार और उनकी पत्नी ने जहर पी लिया। इस दौरान पुलिस ने किसान पर खूब लाठियां बरसाईं।

किसान राजकुमार का दावा है कि यह उसकी पैतृक जमीन है जिस पर दो लाख रुपये का कर्ज लेकर खेती कर रहा है। जब पुलिस ने बोयी फसल पर जेसीबी चलवानी शुरू कर दी तो उसने फसल बचाने की बहुत गुहार की, लेकिन पुलिस ने एक ना सुनी। मेहनत की कमाई बर्बाद होता देख उसके पास खुदकुशी करने के अलावा दूसरा रास्ता नहीं बचा।

किसान द्वारा आत्महत्या के प्रयास और पुलिस बर्बरता का वीडियो वायरल होने के बाद विपक्ष ने भाजपा सरकार को घेरना शुरू कर दिया है। कांग्रेस विधायक पीसी शर्मा ने किसान दंपति पर लाठियां बरसाते पुलिसकर्मियों का वीडियो ट्वीट करते हुए भाजपा में गए ज्योतिरादित्य सिंधिया पर निशाना साधा। सिंधिया लोकसभा में गुना क्षेत्र से ही चुने गए थे।

क्या है मामला?

मिली जानकारी के अनुसार, गुना में सरकारी कॉलेज के लिए आवंटित जमीन पर किसान राजकुमार का परिवार लंबे समय से खेती कर रहा है। लेकिन उसके पास पट्टा नहीं है।

मंगलवार दोपहर को एसडीएम के नेतृत्व में गुना नगर निगम का अतिक्रमण हटाओ दस्ता वहां पहुंचा और फसल पर जेसीबी चलवानी शुरू कर दी। राजकुमार ने सरकारी अमले को रोकने की बहुत कोशिश की। जब किसी ने उसकी बात नहीं सुनी तो वह खेत में बनी झोपड़ी में गया और कीटनाशक की बोतल में रखा जहर पी लिया। उसे देखकर उसकी पत्नी सावित्री ने भी जहर पी लिया। यहां तक कि दोनों अस्पताल जाने से भी इनकार करने लगे तो पुलिस ने घसीटकर गाड़ी में बैठाया और अस्पताल पहुंचा दिया। इस दौरान पुलिस ने खूब लाठियां बरसायीं। मां-बाप को पिटता देखकर बिलखते बच्चों की तस्वीरें और वीडियो अब वायरल हो रहे हैं।

अस्पताल में भर्ती किसान की पत्नी की हालत गंभीर बताई जा रही है। इस पूरे मामले में पुलिस के रवैये और किसान परिवार के साथ हुए सलूक पर सवाल उठ रहे हैं।