शुक्रवार, 27 जनवरी 2023
जल जंगल जमीन

प्याज 165 रुपये किलो! ममता नाराज, “केंद्र ने भेजा सड़ा प्याज”



देश के ज्यादातर महानगरों में प्याज के दाम 100 रुपये किलो से ऊपर हैं। यहां तक कि महाराष्ट्र के नासिक के खुदरा बाजार में भी प्याज 75 रुपये किलो बिक रहा है।

प्याज की बढ़ती कीमतों के बीच इसे लेकर केंद्र और राज्यों के बीच तकरार तेज हो गई है। शुक्रवार को देश में प्याज का अधिकतम खुदरा दाम 165 रुपये किलो तक पहुंच गया। केंद्र सरकार प्याज का आयात कर दाम काबू में लाने की कोशिशों में जुटी है। लेकिन इन कोशिशों का असर दिखने में  एक से डेढ़ महीने का समय लग सकता है।

देश के ज्यादातर महानगरों में प्याज के दाम 100 रुपये किलो से ऊपर हैं। यहां तक कि महाराष्ट्र के नासिक के खुदरा बाजार में भी प्याज 75 रुपये किलो बिक रहा है। उपभोक्ता मामलों के मंत्रालय के अनुसार, शुक्रवार को देश में प्याज का सर्वाधिक खुदरा भाव गोवा के पणजी में 165 रुपये किलो रहा। दिल्ली से सटे गुडगांव में प्याज 120 रुपये किलो बिक रहा है तो ओडिशा के कटक व भुवनेश्वर में प्याज का खुदरा भाव 130 रुपये किलो तक पहुंच गया है। राजधानी दिल्ली में प्याज की कीमतें 100 रुपये किलो के आसपास हैं।

केंद्र पर निकला ममता बनर्जी का गुस्सा

कोलकाता में प्याज का दाम 140 रुपये किलो पहुंच चुका है। पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने इसके लिए केंद्र सरकार पर जमकर निशाना साधा। ममता बनर्जी ने आरोप लगाया कि केंद्र सरकार ने बंगाल को 200 टन के बजाय सिर्फ 20 टन प्याज भेजा, जिसमें से 10 टन प्याज सड़ा हुआ था। इस मुद्दे पर उन्होंने अपनी पार्टी के कार्यकर्ताओं को सड़कों पर उतरने को कहा है। इससे पहले दिल्ली की केजरीवाल सरकार भी प्याज आपूर्ति के मुद्दे पर केंद्र सरकार को घेर चुकी है।

बारिश ने बिगाड़ा खेल

इस साल मानसून में देरी और फिर कर्नाटक, महाराष्ट्र और राजस्थान में ज्यादा बारिश की वजह से प्याज का उत्पादन 26 फीसदी कम है। इस बार बुवाई भी पिछले साल से कम रकबे में हुई थी, जिसके कारण उत्पादन घटा।

इस संकट को दूर करने के लिए केंद्र सरकार प्याज का आयात करवा रही है। राज्य सभा को दी जानकारी में सरकार ने बताया कि विदेशी प्याज 20 जनवरी तक पहुंचना शुरू होगा। यानी प्याज की कीमतें कम होने में समय लगेगा। इस साल केंद्र सरकार ने 1.2 लाख टन प्याज के आयात की मंजूरी दी है। आयात की प्रक्रिया में कई तरह की रियायतें दी गई हैं।

मिस्र और तुर्की की प्याज का इंतजार

गुरुवार को खाद्य एवं उपभोक्ता मामलों के मंत्री राम विलास पासवान ने ट्वीट किया था कि प्याज की उपलब्धता बढ़ाने के लिए 6090 टन प्याज मिस्र और 11000 टन प्याज तुर्की से मंगाया है जो 15 दिसंबर से 15 जनवरी के बीच उपलब्ध हो जाएगा। तुर्की से और 4000 टन प्याज जनवरी के मध्य तक बाजार में आ जाएगा।