शनिवार, 04 फ़रवरी 2023
टॉप न्यूज़

उप-मुख्यमंत्री के विधानसभा क्षेत्र में नाबालिग की निर्मम पिटाई के 25 दिन बाद भी नहीं हुई आरोपियों की गिरफ्तारी!



12 साल के पीड़ित बच्चे ने बताया, "मुझपर मोटरसाइकिल का तेल चोरी करने का आरोप लगाते हुए पीटा गया, गांव में घुमाकर मेरी पिटाई की और जातिसूचक गालियां भी दी.”

जींद के खापड़ गांव में 27 अगस्त को एक बच्चे पर चोरी का आरोप लगाकर मारपीट करने का वीडियो वायरल हुआ था. वीडियो में कुछ लोग 12 साल के बच्चे पर चोरी का आरोप लगाकर पीटते हुए नजर आए थे. जबकि बच्चा चीख-चीखकर कह रहा था कि उसने ऐसा कुछ नहीं किया. लेकिन घटना के 25 दिन बीत जाने के बाद भी आरोपियों की गिरफ्तारी नहीं हुई है.

इस मामले में पुलिस ने 11 लोगों के खिलाफ मारपीट व एससी/एसटी एक्ट के तहत मामला दर्ज किया था, लेकिन अभी तक केवल दो ही आरोपियों की गिरफ्तारी हुई है. बाकि नौ लोगों की गिरफ्तारी की मांग को लेकर पीड़ित पक्ष के लोगों ने जींद लघु सचिवालय के बाहर अनिश्चितकालीन धरना दिया. जिसके बाद पुलिस आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए तैयार हुई.  

खापड़ गांव हरियाणा के उप-मुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला के विधानसभा क्षेत्र उचाना में आता है. जाट बाहुल्य खापड़ गांव में दलित समाज का सामाजिक बहिष्कार करने तथा उन्हें पलायन के लिए मजबूर करने के मामले में पीड़ित पक्ष के लोगों ने जींद के लघु सचिवालय के बाहर रोष प्रदर्शन किया. प्रदर्शन के दबाव में पुलिस ने पीड़ित पक्ष के सामाजिक बहिष्कार के मामले में एफआइआर दर्ज की. वहीं जिला एसपी ने पीड़ितों को सुरक्षा देने के आदेश देते हुए आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए सात दिन का समय मांगा है. जिससे बाद पीड़ित पक्ष ने धरना-प्रदर्शन समाप्त कर दिया.  

सामाजिक कार्यकर्ता दिनेश खापड़ ने बताया,“हम लोगों पर समझौता करने का दबाव बनाया गया. समझौता नहीं करने पर मंदिर के लाउडस्पीकर से बोला गया कि चमार समुदायों के लोगों ने समझौता करने से मना कर दिया है. अब इनका सामाजिक बहिष्कार किया जाएगा.”

इस मामले में सामाजिक कार्यकर्ता दिनेश खापड़ ने राष्ट्रीय अनुसूचित आयोग और हरियाणा राज्य बाल संरक्षण आयोग को शिकायत भेजकर आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई करने की मांग की है. पीड़ित पक्ष के लोगों ने आरोप लगाया कि इस घटना के बाद गांव के जाट समुदाय के लोगों ने दलितों के 12 परिवारों का सामाजिक बहिष्कार कर दिया है.

“द न्यूज बीक’ को दिए इंटरव्यू में पीड़ित बच्चे ने कहा, “सूबे का काला मुझे पीटता हुआ ले गया उसने मुझपर मोटरसाइकिल का तेल चोरी करने का आरोप लगाया. उन्होने गांव में घुमाकर मेरी पिटाई की और जातिसूचक गालियां भी दी.”