शुक्रवार, 27 जनवरी 2023
टॉप न्यूज़

हरियाणा: अमित शाह की गोहाना रैली का बहिष्कार करेंगे नवनिर्वाचित सरपंच!



प्रदेश के नवनिर्वाचित सरपंचों ने विकास एवं पंचायत मंत्री देवेंद्र सिंह बबली के राजनीतिक क्षेत्र टोहाना में प्रदर्शन किया. सरपंचों ने ई-टेंडरिंग वापस लेने की अपनी मांग को लेकर राज्य भर के ब्लॉक विकास एवं पंचायत कार्यालयों के बाहर प्रदर्शन किया. सरपंच, गांवों में विकास कार्यों की मांग को दबाने और ‘राइट टू रिकॉल’ का विरोध करते नजर आए. विधानसभा में विपक्ष ने भी सरपंचों के पक्ष में आवाज उठाते हुए इस नई प्रणाली का विरोध किया था लेकिन सरकार ने विपक्ष की बात को मानने से इनकार कर दिया.

नवनिर्वाचित सरपंचों ने ई-टेंडर के प्रावधानों को वापस लेने की मांग को लेकर हिसार शहर में धरना दिया और नारेबाजी की. सरपंचों ने हांसी स्थित बीडीपीओ कार्यालय पर ताला जड़ दिया. अंग्रेजी अखबार ‘द ट्रिब्यून’ की खबर के अनुसार डोभी गांव के सरपंच आजाद सिंह ने कहा कि अगर मुख्यमंत्री 23 जनवरी को फतेहाबाद जिले के बिधाईखेड़ा गांव पहुंचे तो वे उन्हें काले झंडे दिखाएंगे.

भिवानी के तोशाम में सरपंचों ने ब्लॉक कार्यालय के मुख्य गेट पर ताला लगा दिया. बलजीत सिंह ने कहा कि जब तक सरकार उनकी मांगों को नहीं सुनती, तब तक वे विरोध जारी रखेंगे. वहीं फतेहाबाद जिले में सरपंचों ने टोहाना, भूना, रतिया और भट्टू ब्लॉक के ब्लॉक विकास अधिकारियों के दफ्तरों पर ताला लगा दिया. सरपंचों ने सिरसा और जींद जिले के सभी सात ब्लॉक में भी विरोध प्रदर्शन किया.

वहीं महेंद्रगढ़ में भी कईं गांवों के सरपंचों ने ब्लॉक कार्यालय के बाहर कई घंटे तक प्रदर्शन किया. उन्होंने कार्यालय पर ताला लगाने का कई बार प्रयास किया, लेकिन पुलिस ने उन्हें ऐसा नहीं करने दिया.

साथ ही अंबाला में नाखुश सरपंचों ने शाहाबाद और लाडवा में बीडीपीओ के कार्यालय के बाहर धरना दिया. सरपंच सुखदीप सिंह ने कहा कि सरकार के फैसले से गांव में विकास परियोजनाएं प्रभावित होंगी.

मुख्यमंत्री खट्टर के राजनीतिक क्षेत्र करनाल में सरपंचों के राज्य संगठन द्वारा दिए गए आह्वान का कोई बड़ा प्रभाव नहीं पड़ा क्योंकि सरपंचों ने केवल इंद्री ब्लॉक में विरोध किया. इन्द्री ब्लॉक सरपंच एसोसिएशन के अध्यक्ष शमशेर सिंह ने कहा कि सरकार को इस फैसले को वापस लेना चाहिए क्योंकि विकास के लिए दो लाख रुपये बहुत कम है.

रोहतक में विरोध कर रहे सरपंचों ने स्थानीय बीडीपीओ के कार्यालय पर ताला लगा दिया. रोहतक जिला सरपंच संघ के अध्यक्ष विकास खत्री ने कहा कि अगर उनकी मांगें नहीं मानी गईं तो सरपंच 29 जनवरी को केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह की गोहाना में होने वाली रैली का बहिष्कार करेंगे.