शुक्रवार, 27 जनवरी 2023
टॉप न्यूज़

महंगाई की दोहरी मार: पेट्रोल-डीजल के बाद टोल और बिजली भी हुई महंगी!



1 अप्रैल से हरियाणा में सफर करना और महंगा हो जाएगा जिसका असर निजी साधनों के साथ-साथ रोडवेज पर भी पड़ने जा रहा है। अब तक (कुंडली-मानेसर-पलवल) केएमपी एक्सप्रेस-वे पर हल्के वाहनों से 1.46 रुपये प्रति किलोमीटर के हिसाब से टोल लिया जा रहा था, जिसे अब बढ़ाकर 1.61 रुपये प्रति किलोमीटर कर दिया गया है। वहीं जींद में खटकड़ टोल प्लाजा पर हल्के वाहनों पर लगने वाला टोल 10 रुपये बढ़ाकर 100 से 110 रुपये हो गया है।

इसी तरह हिसार के चारों तरफ के टोल पर वाहनों की श्रेणियों के अनुसार सात से 30 रुपये तक की बढ़ोत्तरी हुई है। वहीं सोनीपत में गांव झरोठी के पास लगे टोल प्लाजा पर वाहन चालकों को 10 रुपये से लेकर 55 रुपये ज्यादा चुकाने होंगे।

कुंडली-मानेसर-पलवल एक्सप्रेसवे (केएमपी) और खेरकी दौला टोल प्लाजा और सोहना रोड पर गमदोज के पास नवनिर्मित टोल प्लाजा से गुजरना भी महंगा हो जाएगा। खेरकी दौला टोल प्लाजा प्रबंधन के मुताबिक, 1 अप्रैल से बड़े व्यावसायिक वाहनों (ट्रकों, बसों और इसी तरह के वाहनों) से पहले 205 रुपये के बजाय 235 रुपये प्रति ट्रिप चार्ज किया जाएगा।

कारों और जीपों के लिए नियमित टोल शुल्क 10 रुपये बढ़ाकर 70 रुपये से 80 रुपये कर दिया गया है। मिनीबस प्रकार के वाहनों के लिए, 100 रुपये के बजाय 115 रुपये शुल्क लिया जाएगा। खेड़की दौला टोल प्लाजा से प्रतिदिन औसतन 80,000 से अधिक वाहन गुजरते हैं।

टोल प्लाजा की मासिक दरों में भी बढ़ोतरी की गई है. संशोधित दरों ने स्थानीय निवासियों को भी चपेट में ले लिया है. स्थानीय निवासी यशेश यादव ने बताया, “हम टोल प्लाजा को हटाने की मांग कर रहे हैं, इसके बजाय साल दर साल टोल दरों में वृद्धि की जा रही है।”

वहीं घरेलू उपभोक्ताओं के लिए बिजली भी महंगी की गई है। 50 लाख घरेलू उपभोक्ताओं को 100 यूनिट से ज्यादा बिजली खर्च पर ज्यादा बिल देना होगा। 0 से 150 यूनिट पर बिजली 25 पैसे प्रति यूनिट महंगी हो गई है। इस स्लैब में पहले 2.50 रूपए प्रति यूनिट देने होते थे जो अब बढ़ाकर 2.75 रूपए कर दी गई है।

इस तरह होगा चार्ज

0 से पचास यूनिट पर : दो रुपये प्रति यूनिट

51 से 100 यूनिट पर : 2.50 रुपये प्रति यूनिट

0 से 150 यूनिट पर : 2.75 रुपये प्रति यूनिट। पहले ये 2.50 रुपये प्रति यूनिट था।

151 से 250 यूनिट पर : 5.25 रुपये प्रति यूनिट

251 से 500 यूनिट पर : 6.30 रुपये प्रति यूनिट

501 से अधिक यूनिट पर : 7.10 रुपये प्रति यूनिट

गौशाला से दो रुपये प्रति यूनिट शुल्क लिया जाएगा। गौशाला का पंजीयन कराना अनिवार्य है। राज्य सरकार गौशाला को सब्सिडी देती है। सब्सिडी नहीं मिलने पर गौशाला वालों से भी घरेलू कनेक्शन की तरह शुल्क लिया जाएगा।

हरियाणा बिजली नियामक आयोग ने 1 अप्रैल यानी शुक्रवार से नई दरें लागू कर दी हैं। हर साल बिजली के रेट तय किए जाते हैं। खेती के लिए शुल्क में कोई बदलाव नहीं किया गया है। दस पैसे प्रति यूनिट शुल्क लिया जाएगा। हरियाणा में विद्युत निगम के 72.73 लाख उपभोक्ता हैं। आधे घरेलू उपभोक्ता हैं। अगर आप 150 यूनिट तक बिजली की खपत करते हैं, तो अब 37.50 रुपये अतिरिक्त बिल में जुड़ जाएंगे।

पहले से महंगाई की मार झेल रही जनता पर टोल टैक्स और बिजली में बढ़ातरी से और परेशानी होगी।

कांग्रेस नेत्री कुमार शैलजा इसकी ट्वीट करके निन्दा करते हुए लिखा है, “रिकॉर्ड तोड़ महंगाई से पिस रहे प्रदेशवासियों को कोई राहत देने की बजाय बिजली के दामों में बढ़ोतरी किया जाना घोर निंदनीय है। कमरतोड़ महंगाई के बीच BJP-JJP सरकार का प्रदेश की जनता पर यह क्रूर प्रहार है। इस वृद्धि को तुरंत प्रभाव से वापस लिया जाए।”