शनिवार, 04 फ़रवरी 2023
टॉप न्यूज़

दिल्ली में भीषण अग्निकांड, बिल्डिंग में 27 लोग जिंदा जले, 12 लोग जख्मी



दमकल अधिकारियों ने बताया कि दमकल की 30 गाड़ियों को घटनास्थल पर भेजा गया और घायलों को मंगोलपुरी के संजय गांधी मेमोरियल अस्पताल में भर्ती कराया गया है.

दिल्ली के मुंडका मेट्रो स्टेशन के पास एक चार मंजिला व्यावसायिक इमारत में शुक्रवार शाम भीषण आग लगने 27 लोगों की मौत हो गई और 12 घायल हो गए.

दिल्ली पुलिस के डीसीपी (बाहरी) समीर शर्मा ने कहा कि अब तक 50 लोगों को बचाया गया है. लोगों को बचाने के लिए इमारत की खिड़कियों को तोड़कर बचाव टीम अंदर गई है. इमारत में कई कंपनियों के लिए कार्यालय की जगह थी और पहली मंजिल पर आग लग गई, जिसमें एक कंपनी थी जो सीसीटीवी कैमरे और राउटर बनाती थी.

पुलिस ने कहा कि कंपनी के मालिकों – हरीश गोयल और वरुण गोयल – को गिरफ्तार कर लिया गया है. कंपनी के मालिकों के पिता अमरनाथ गोयल भी आग में मारे गए लोगों में शामिल थे. पुलिस ने कहा कि इमारत के मालिक, जिसके पास अग्निशमन विभाग से सुरक्षा मंजूरी नहीं थी, की पहचान मनीष लाकड़ा के रूप में की गई है और वह फरार है. पुलिस ने आईपीसी 304 (गैर इरादतन हत्या), 308 (गैर इरादतन हत्या का प्रयास), 120, 34 के तहत प्राथमिकी दर्ज है.

प्रारंभिक जांच में पाया है कि आग लगने के समय दूसरी मंजिल पर एक मोटिवेशनल कार्यक्रम आयोजित किया जा रहा था. इस कार्यक्रम में अनेकों लोग शामिल थे, इसलिए सबसे ज्यादा मौतें इसी मंजिल पर हुईं हैं.

दिल्ली दमकल सेवा के प्रमुख अतुल गर्ग के मुताबिक उन्हें शाम करीब 4.40 बजे आग लगने की सूचना मिली. दमकल अधिकारियों ने बताया कि दमकल की 30 गाड़ियों को घटनास्थल पर भेजा गया और घायलों को मंगोलपुरी के संजय गांधी मेमोरियल अस्पताल में भर्ती कराया गया है. स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने रात करीब 10.50 बजे ट्वीट किया. कि “आग बुझा दी गई” दिल्ली दमकल सेवा ने आग में फंसे लोगों को बचाने के लिए क्रेन तैनात की थी. हालांकि आग का धुंआ पूरी इमारत में फैल गया और कुछ लोगों ने खुद को बचाने के लिए खिड़कियों से छलांग लगा दी, जबकि कुछ ने नीचे उतरने के लिए रस्सियों का सहारा लिया.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आग त्रासदी पर दुख व्यक्त किया और घोषणा की कि प्रधान मंत्री राष्ट्रीय राहत कोष से प्रत्येक को 2 लाख रुपये दिए जाएंगे, जिन्होंने अपनी जान गंवाई और प्रत्येक घायलों को 50,000 रुपये दिए जाएंगे. श्री मोदी ने एक ट्वीट में कहा, “दिल्ली में भीषण आग के कारण लोगों की जान जाने से बेहद दुखी हूं। मेरी संवेदनाएं शोक संतप्त परिवारों के साथ हैं. मैं घायलों के शीघ्र स्वस्थ होने की कामना करता हूं.”

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने आग की घटना को “बहुत दुखद” बताया. उन्होंने ट्वीट कर कहा, “दिल्ली के मुंडका में आग की घटना बहुत दुखद है. मैं संबंधित अधिकारियों के लगातार संपर्क में हूं. प्रशासन राहत और बचाव कार्य में लगा हुआ है. एनडीआरएफ भी जल्द ही वहां पहुंच रहा है. हमारी प्राथमिकता लोगों को बाहर निकालना और घायलों को तत्काल इलाज मुहैया कराना है.”

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने आग में जानमाल के नुकसान पर दुख व्यक्त किया और कहा कि वह लगातार अधिकारियों के संपर्क में हैं. “इस दुखद घटना के बारे में जानकर स्तब्ध और दुखी हूं. मैं लगातार वरिष्ठ अधिकारियों के संपर्क में हूं. हमारे बहादुर दमकलकर्मी आग पर काबू पाने और लोगों की जान बचाने की पूरी कोशिश कर रहे हैं. भगवान सबका भला करे.”